हम मनी ट्रांजैक्शन के टेक्नोलॉजी (Technology) में इतनी आगे बढ़ गए हैं कि कार्ड से पेमेंट अब बहुत पुरानी बात हो गई है. और शायद यह भी एक कारण है कि रोजाना इस्तेमाल की जाने वाली छोटी-छोटी चीजें हमारी आंखों से गायब हो जाती हैं. अगर आप भी कार्ड से पेमेंट करते हैं तो आपने अपने कार्ड पर प्रिंटेड टेक्स्ट और तस्वीरों पर भी ध्यान दिया होगा. प्रत्येक कार्ड के निचले दाएं कोने पर Visa, Mastercard या Rupay लिखा होगा. बहुत संभव है कि आपको इसका अर्थ और क्षेत्र पता हो, लेकिन अगर ऐसा नहीं है तो हम बता रहे हैं.

यह भी पढ़ें:Credit Card के ये नियम जरूर होने चाहिए पता, नहीं तो हो सकता है भारी नुकसान

Rupay Card क्या है?

NPCI यानी नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया ने 2012 में रुपे कार्ड लॉन्च किया था. यह भारत का घरेलू कार्ड है. यह भारतीय पेमेंट नेटवर्क से जुड़ा है और इससे आप पूरे भारत कहीं भी पेमेंट कर सकते हैं. यह वैसे ही काम करता है जैसे वीज़ा और मास्टरकार्ड कार्ड करते हैं, लेकिन चूंकि यह केवल घरेलू नेटवर्क पर काम करता है, लेकिन उनसे थोड़ा फास्ट है.

यह भी पढ़ें:Debit card activation: नया डेबिट कार्ड कैसे एक्टिव करें? जानें ये 3 तरीके

Visa Card

यदि आपका डेबिट कार्ड वीज़ा के रूप में सूचीबद्ध है, तो यह वीज़ा नेटवर्क का कार्ड है. लेकिन एक खास बात यह है कि वीज़ा सीधे इन कार्डों को जारी नहीं करता है, बल्कि साझेदारी में काम करने वाले अन्य वित्तीय संस्थान इन कार्डों को जारी करते हैं.

यह भी पढ़ें:ATM से कैश निकालने से पहले जान लें ये नया नियम, वरना फस जाएंगे पैसे

Mastercard

मास्टरकार्ड दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा पेमेंट नेटवर्क है. वीजा नंबर वन है. इस कंपनी के कार्ड जारी करने के लिए दुनिया भर के वित्तीय संस्थान इस कंपनी के साथ साझेदारी करते हैं.

यह भी पढ़ें: ATM का पिन कभी 6 अंकों का होता था, फिर कैसे हुए 4 नंबर? वजह आपको हैरान कर देगी

यानी ये कंपनियां अपने कार्ड खुद जारी नहीं करतीं, बल्कि पेमेंट नेटवर्क मुहैया कराती हैं और वित्तीय संस्थान अपने नेटवर्क के नाम पर कार्ड जारी करते हैं, क्योंकि – जैसा कि आपने सही समझा – पेमेंट उनके नेटवर्क के जरिए किया जाता है.