इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2022) का फाइनल मुकाबला गुजरात टाइटंस (Gujarat Titans) और राजस्थान रॉयल्स (Rajasthan Royals) के बीच खेला गया. टॉस जीतकर राजस्थान ने पहले बल्लेबाजी का फैसला किया. पहले बल्लेबाजी करते हुए राजस्थान ने 20 ओवर में 9 विकेट पर 130 रन बनाए और गुजरात को 131 रन का टारगेट दिया. वहीं, गुजरात ने इस लक्ष्य को आसानी से हासिल कर लिया और राजस्थान को 7 विकेट से शिकस्त दी. इसके साथ ही IPL 2022 का खिताब अपने नाम कर लिया. गुजरात की टीम पहली बार आईपीएल खेलने उतरी और पहली ही बार में चैंपियंस बन कर ऐतिहासिक जीत हासिल की.

यह भी पढ़ें: IPL 2022 Final: गुजरात बनी चैंपियंस, राजस्थान को 7 विकेट से मिली शिकस्त

मुकाबला जीतने के बाद कप्तान हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) ने बड़ा खुलासा किया. उन्होंने बताया कि किस तरह से गुजरात टाइटंस ने मैच में जीत हासिल की है.

कप्तान हार्दिक पांड्या ने कहा, “सपोर्ट स्टाफ ने खिलाड़ियों के लिए जिस तरह का सपोर्ट दिखाया है. वो काबिल-ए-तारीफ है. दुनिया की किसी भी टीम के लिए यह बिलकुल सही उदाहरण है.” उन्होंने कहा, “मैं सही टाइम पर दिखाना चाहता था कि मैंने जिसके लिए बहुत मेहनत की है और वो आज का ही दिन था. मैंने अपने बेहतरीन प्रदर्शन को बचाकर रखा था. संजू को आउट करने के बाद मेने जब दूसरी गेंद फेंकी तब मुझे लगा कि आपको गेंदबाजी करते समय लाइन लेंथ ठीक रखनी होगी.” उन्होंने कहा, “बल्लेबाजी उनके दिल के बहुत ही पास है.” उन्होंने कहा, “मेगा ऑक्शन के बाद यह साफ हो गया था कि मुझे टॉप ऑर्डर में बैटिंग करनी होगी.

यह भी पढ़ें: IPL 2022: गुजरात टाइटंस और राजस्थान रॉयल्स को कितना Prize Money मिला

फाइनल में किया कमाल

गुजरात टाइटंस ने लीग स्टेज और प्लेऑफ मुकाबलों में बेहतरीन खेल दिखाया. हार्दिक पांड्या की कप्तानी में टीम ने 16 में से 12 मुकाबले जीते थे. आईपीएल 2022 में पांड्या ने बेहतरीन खेलकर सभी का दिल जीत लिया. उन्होंने राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ फाइनल मुकाबले में चार ओवर में 17 रन देकर तीन विकेट हासिल किए. वहीं, 34 अहम रन भी बनाए. इसी वजह से उन्हें ‘मैन ऑफ द मैच’ का अवॉर्ड मिला.

यह भी पढ़ें: IPL 2022 Orange cap: विराट से पीछे रहे जॉस बटलर, लेकिन बना गए बड़ा रिकॉर्ड

गुजरात की टीम पहली बार आईपीएल खेलने उतरी और पहली ही बार में चैंपियंस बन कर ऐतिहासिक जीत हासिल की. गुजरात ने आईपीएल 2022 में कुल 16 मैच खेले जिसमें से उसे केवल 4 में हार मिली और 12 मैच जीते. वहीं, राजस्थान दूसरी बार चैंपियंस बनने से चूक गया. फाइनल मैच में डेविड मिलर एक बार फिर राजस्थान के लिए घातक साबित हुए.

यह भी पढ़ें: IPL 2022 fastest ball: सीजन के 5 सबसे तेज गेंदबाज, पहले पर लॉकी फर्ग्यूसन