जीवन में खान पान का विशेष महत्व माना गया है. हेल्दी लाइफ जीने में हमारे द्वारा खाने पीने की चीजों का बहुत ही महत्वपूर्ण रोल है. एक तरह से देखा जाए काफी हद तक खान पान की शैली ही हमारे स्वस्थ अस्वस्थ होने का कारण बनती है. इसलिए हमें अपने खान पान का बहुत ही विशेष ध्यान रखना चाहिए. ताकि हम और हमारा परिवार स्वस्थ रह सके. इसी को ध्यान में रखते हुए हर साल विश्व अंडा दिवस (World Egg Day 2023) अक्टूबर के दूसरे शुक्रवार को सेलिब्रेट किया जाता है. तो चलिए विस्तार से जानते हैं कि इस दिवस को क्यों मनाया जाता है और वास्तव में इस दिवस को मनाने का उचित उद्देश्य क्या है.

यह भी पढ़ें: Egg Eating Facts: गर्मी में अंडा खाना चाहिए या नहीं? जानें इस सवाल का सही जवाब

विश्व अंडा दिवस का उद्देश्य (World Egg Day 2023 Aim In Hindi)

इस दिवस को मनाने के उद्देश्य की बात करें, तो मानव स्वास्थ्य के लिए इसके अनूठे पोषण संबंधी लाभों के बारे में लोगों को जागरूक करना ही इसका मकसद है. ताकि व्यक्ति अंडे के सेवन के गुणों को जानकर उसका सदुपयोग करते हुए, स्वयं को व अपनों को पूरी तरह से स्वस्थ रख सके. आपको बता दें कि इस दिवस की महत्ता को बताने के लिए विभिन्न विभिन्न संस्थानों और विभिन्न एनजीओ के द्वारा अंडे के पोषण मूल्य और महत्व के बारे में बताने के लिए कई कार्यक्रम भी आयोजित किए जाते हैं.

यह भी पढ़ें: Boiled Eggs Benefits: सर्दियों में उबले अंडे का करें सेवन, सेहत को मिलेंगे गजब के फायदे

विश्व अंडा दिवस 2023 की थीम (World Egg Day 2023 Theme In Hindi)

पहली बार विश्व अंडा दिवस की बात करें, तो यह स्पेशल डे पहली बार 1996 में वियना शहर में मनाया गया था. उस समय, इस दिन को मनाने का मुख्य कारण इस बारे में जागरुकता बढ़ाना था कि विश्व खाद्य दिवस के सिद्धांतों के अनुरूप अंडे वास्तव में कितने पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं. आपको बता दें कि विश्व अंडा दिवस की हर साल एक अलग थीम होती है. अगर 2023 में विश्व अंडा दिवस की थीम की बत करें, तो अंतर्राष्ट्रीय अंडा आयोग ने ‘ स्वस्थ भविष्य के लिए अंडे’ की थीम चुनी गई है. इस वर्ष ध्यान इस बात पर केंद्रित होगा कि कैसे अंडे पोषण का एक शक्तिशाली हो सकते हैं, जो इस ग्रह पर सभी के लिए स्वस्थ भविष्य में योगदान देते हैं.