कांग्रेस ने उत्तर प्रदेश में बृजलाल खाबरी (Brijlal Khabri) को नया प्रदेश अध्यक्ष (State President)  नियुक्त कर दिया है. इसके अलावा कांग्रेस ने 6 अन्य प्रान्तों में भी अध्यक्षों की नियुक्ति की है. जिन लोगों को इन पदों के लिए नियुक्त किया गया है उनके नाम नसीमुद्दीन सिद्दकी, वीरेंद्र चौधरी, अजय राव, नकुल दुबे, अनिल यादव, और योगेश दीक्षित हैं.

बता दें कि कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने की लिस्ट में मल्लिकार्जुन खड़गे का नाम सबसे ऊपर है. कयास लगाये जा रहे हैं कि राष्ट्रीय अध्यक्ष के पद के लिए मल्लिकार्जुन खड़गे का नाम पक्का है. कांग्रेस ने दलित चेहरों के ओर एक कदम और बढ़ाते हुए उत्तर प्रदेश में भी बृजलाल खाबरी को नियुक्त करके ये साफ कर दिया है कि अब उनकी राजनीति में दलितों चेहरों की गिनती ज्यादा होगी. गौरतलब है कि बृजलाल खाबरी को कांग्रेस आलाकमान का बेहद करीबी माना जा रहा है.

यह भी पढ़ें: कौन हैं मल्लिकार्जुन खड़गे?

ये वही बृजलाल खाबरी हैं जिन्होंने उत्तर प्रदेश की महरौनी विधानसभा से चुनाव लड़ा था. इस चुनाव में उनकी झोली में मात्र 4,334 वोट ही गिरे जिससे उन्हें बहुत ही बुरी हार का सामना करना पड़ा. खाबरी की पत्नी उर्मिला देवी सोनकर ने भी उरैया सीट से टिकटलिया था और उन्हें भी मात्र 4600 मत मिले जिससे उन्हें भी करारी हार का सामना करना पड़ा.  बता दें कि ये दोनों कांग्रेस के प्रत्याशी थे. लेकिन दोनों को ऐसी करारी हार मिली की दोनों ही अपनी-अपनी सीटों पर चौथे स्थान पर थे.

यह भी पढ़ें: Congress अध्यक्ष पद के उम्मीदवार मल्लिकार्जुन खड़गे ने नेता प्रतिपक्ष पद से दिया इस्तीफा, जानें वजह

गौरतलब है कि बृजलाल खाबरी साल 2016 में कांग्रेस के पाले में आ गए थे. उसके बाद 2017 में उन्होंने ललितपुर जनपद की महरौनी सीट से विधानसभा का चुनाव लड़ा और हार का सामना करना पड़ा. एक बार फिर साल 2019 में कांग्रेस के टिकट पर जालौन-गरौठा सीट से लोकसभा का चुनाव लड़ा और करारी हार मिली. अपनी हार की गिनती बढ़ाते हुए उन्होंने साल 2022 में फिर से कांग्रेस से महरौनी के विधानसभा का चुनाव लड़ा और फिर हार को गले लगाया. बता दें कि इनकी पत्नी उर्मिला सोनकर खाबरी सेवानिवृत्त PCS अधिकारी हैं. वह झांसी मंडल में अपर आयुक्त के पद पर रह चुकी है.