उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 (UP Assembly Elections) में भारतीय जनता पार्टी को बंपर जीत मिली. भारतीय जनता पार्टी एक बार फिर से उत्तर प्रदेश में सरकार बनाने जा रही है लेकिन कुछ सीटें और क्षेत्र काफी सुर्खियों में रही. इनमें से एक है लखीमपुर खीरी जहां पिछले साल थार कांड हुआ था. दरअसल, किसान आंदोलन के दौरान निघासन विधानसभा के अंतर्गत आने वाली तिकुनिया में थार गाड़ी किसानों के ऊपर चढ़ा दी गई जिसमें बीजेपी कार्यकर्ता और किसानों की मौत हो गई इस कांड में केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा मुख्य आरोपी बनाए गए और कई महीनों तक जेल की सजा भी काटनी पड़ी.

यह भी पढ़ेंः उत्तराखंड: ‘गढ़ आया पर सिंह गया’, BJP जीती पर अपनी सीट नहीं बचा पाए पुष्कर

लखीमपुर की जिस जगह पर किसानों के ऊपर थार गाड़ी चढ़ाई गई थी वो जगह तिकुनिया थी. तिकुनिया निघासन विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत आता है. इस सीट से भारतीय जनता पार्टी के शशांक वर्मा ने जीत हासिल की जबकि सपा के आरएस कुशवाहा दूसरे नंबर पर रहे. इसके अलावा बसपा के आरए उस्मानी तीसरे नंबर पर रहे. आपकी जानकारी के लिए बता दें लखीमपुर खीरी में कुल 8 विधानसभा सीटें हैं. पलिया, निघासन, गोला, श्रीनगर, धौरहरा, लखीमपुर, कास्ता और मोहम्मदी. इन 8 सीटों में से सभी 8 सीट विधानसभा सीटों पर बीजेपी को जीत मिल चुकी है. बता दें कि लखीमपुर खीरी में चौथे चरण में मतदान हुआ था. यहां 62.45 फीसदी वोट डाले गए थे.

यह भी पढ़ेंः पंजाब में AAP की सरकार, अरविंद केजरीवाल बोले- मैं आतंकवादी नहीं

पलिया विधानसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी हरविंदर सिंह साहनी रोमी को जीत मिली. कस्ता विधानसभा सीट से बीजेपी प्रत्याशी सौरव सिंह सोनू चुनाव जीते. धौराहरा विधानसभा सीट से भाजपा के विनोद शंकर अवस्थी चुनाव जीत गए. इनके अलावा श्रीनगर विधानसभा सीट से बीजेपी प्रत्याशी मंजू त्यागी ने जीत हासिल की. अगर गोला विधानसभा सीट की बात करें तो भाजपा के अरविंद गिरी ने चुनाव जीता. निघासन विधानसभा सीट से बीजेपी के शशांक वर्मा ने जीत हासिल की. लखीमपुर सदर सीट से भाजपा प्रत्याशी योगेश वर्मा और मोहम्मदी सीट से बीजेपी के लोकेंद्र प्रताप सिंह ने चुनाव जीता.

यह भी पढ़ेंः BJP यूपी, गोवा, उत्तराखंड और मणिपुर जीती, तो क्यों हार गई पंजाब