एंटी करप्शन ब्यूरो ने शुक्रवार को ओखला विधानसभा सीट से आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) के विधायक अमानतुल्लाह खान (Amanatullah Khan) को गिरफ्तार किया. एसीबी (ACB) ने पहले खान के ठिकानों पर रेड मारी थी. बता दें कि पूरी कार्रवाई वक्फ बोर्ड से जुड़े मामले में की गई.

यह भी पढ़ें: अहमदाबाद कोर्ट से जिग्नेश मेवाणी को बड़ा झटका, 18 साथियों के साथ मिली 6 महीने की जेल!

न्यूज एजेंसी एएनआई की मानें तो रेड के दौरान अमानतुल्लाह खान के ठिकानों से विदेशी पिस्टल ब्रेटा बरामद की गई. ऐसा बताया जा रहा है कि इस पिस्टल का लाइसेंस नहीं है. ये पिस्टल अमानतुल्लाह के बिजनेस पार्टनर हामिद अली के घर से बरामद की गई है. साथ ही 12 लाख रुपये कैश भी बरामद किए गए हैं.

यह भी पढ़ें: Hydrogen Train: भारत बना रहा है हाइड्रोजन ट्रेन, जानें कब पटरी पर दौरेगी ये रेल

एसीबी की रेड के दौरान आम आदमी पार्टी के वार्ड प्रेसिडेंट और अमानतुल्लाह खान के करीबी कौशर इमाम सिद्दीकी के यहां से भी कैश, पिस्टल और कारतूस बरामद हुए हैं. बता दें कि कौशल इमाम के घर से एसीबी ने 12 लाख रुपये कैश बरामद किए हैं. अब तक की रेड में कुल 24 लाख कैश और 2 हथियार और कारतूस बरामद हुए हैं.

यह भी पढ़ें: NEET PG Exam 2023 समेत जारी हुईं मेडिकल के 10 एग्जाम्स की डेट, देखें लिस्ट

जानें क्या है मामला

आजतक की रिपोर्ट के अनुसार, अमानतुल्लाह खान पर वक्फ बोर्ड के बैंक खातों में वित्तीय गड़बड़ी, वक्फ बोर्ड की संपत्तियों में किरायेदारी का निर्माण, वाहनों की खरीद में भ्रष्टाचार और दिल्ली वक्फ बोर्ड में सेवा नियमों में उल्लंघन करते हुए 33 लोगों की अवैध नियुक्ति के आरोप हैं. इस संबंध में एसीबी ने जनवरी 2020 में भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम और भारतीय दंड संहिता के विभिन्न प्रावधानों के तहत केस दर्ज किया था. अमानतुल्लाह पर दिल्ली वक्फ बोर्ड का चेयरमैन रहते हुए अपने पद का दुरुपयोग करने और अपने करीबियों की नियुक्तियां करने का आरोप लगा है. बता दें कि सीबीआई ने इसी वर्ष मई में खान पर मुकदमा चलाने की मंजूरी मांगी थी.