देश के 6 राज्यों की 7 विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव (By Election Results 2022) के नतीजे लगभग साफ हो चुके हैं. बिहार (Bihar) की मोकामा विधानसभा सीट से आरजेडी (RJD) की प्रत्याशी ने जीत हासिल की, तो वहीं गोपालगंज से भाजपा ने अपनी सीट बरकरार रखी. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के लखीमपुर की गोला गोकर्णनाथ सीट पर भाजपा ने बड़ी जीत हासिल की. इसके अलावा महाराष्ट्र (Maharashtra) की अंधेरी ईस्ट सीट उद्धव खेमे की ऋतुजा लटके ने जीत हासिल की. हरियाणा (Haryana) की आदमपुर विधानसभा सीट की बात करें तो वहां पर भाजपा ने जीत हासिल की. बता दें कि अभी तक तेलंगाना (Telangana) की मुनुगोड़े और ओडिशा (Odisha) की धामनगर विधानसभा सीट के नतीजे साफ नहीं हुए हैं.

यह भी पढ़ें: Election 2022: कैसे होती है वोटों की गिनती? यहां जानें कौन करता है मतगणना

6 राज्यों की 7 विधानसभा सीटों के नतीजे-

1. मोकामा (बिहार)

आरजेडी ने इस विधानसभा सीट से बाहुबली अनंत सिंह की पत्नी नीलम देवी को अपना उम्मीदवार बनाया था. आरजेडी के सामने भाजपा कड़ी टक्कर दे रही थी. भाजपा ने यहां से सोनम देवी को खड़ा किया था. इस सीट से आरजेडी की नीलम देवी ने 16,741 मतों के अंतर से चुनाव जीता.

2. गोपालगंज (बिहार)

भाजपा ने इस सीट से दिवंगत सुभाष सिंह की पत्नी कुसुम देवी को अपना उम्मीदवार बनाया था. उनको आरजेडी के मोहन प्रसाद गुप्ता से कड़ी टक्कर मिली. भाजपा ने 2000 मतों से भी कम के अंतर से ये चुनाव जीत लिया.

3. आदमपुर (हरियाणा)

आदमपुर विधानसभा सीट परंपरागत रूप से भजनलाल परिवार की सीट रही है. इस विधानसभा सीट से भाजपा ने कुलदीप बिश्नोई के पुत्र भव्य बिश्नोई को अपना उम्मीदवार बनाया था. भव्य को कांग्रेस के जयप्रकाश की कड़ी चुनौती मिली. भाजपा ने इस सीट को 15,740 मतों से जीता.

यह भी पढ़ें: Himachal Pradesh Elections 2022: 80 साल से ऊपर के मतदाता घर बैठे डाल सकेंगे वोट, जानें कैसे

4. गोला गोकर्णनाथ (उत्तर प्रदेश)

भारतीय जनता पार्टी ने इस सीट से दिवंगत विधायक अरविंद गिरी के बेटे अमन गिरी को अपना उम्मीदवार बनाया था. वहीं, समाजवादी पार्टी ने यहां से पूर्व विधायक विनय तिवारी को चुनावी मैदान में उतारा था. यहां से भाजपा के प्रत्याशी ने 34,298 मतों से जीत हासिल की.

5. अंधेरी ईस्ट (महाराष्ट्र)

उद्धव खेमे ने इस सीट से ऋतुजा लटके को अपना उम्मीदवार बनाया था. उनके खिलाफ 6 उम्मीदवार चुनावी मैदान में खड़े थे जिनमें से 4 निर्दलीय थे. भाजपा ने इस सीट से अपना कोई उम्मीदवार खड़ा नहीं किया था. यहां से ऋतुजा लटके को बड़ी जीत हासिल हुई. उन्हें 64,959 मतों से जीत मिली.

6. मुनुगोड़े (तेलंगाना)

भारतीय जनता पार्टी ने इस सीट पर राजगोपाल रेड्डी को अपना प्रत्याशी बनाया था. टीआरएस ने उनके खिलाफ पूर्व विधायक कुसुकुंतला प्रभाकर रेड्डी को मौका दिया. इस सीट पर टीआरएस के उम्मीदवार ने 10,309 मतों से जीत हासिल की. 

यह भी पढ़ें: हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव वोटिंग से जुड़ी जरूरी बातें, देखें पूरा डेटा

7. धामनगर (ओडिशा)

इस सीट पर भारतीय जनता पार्टी ने सूर्यांशी सूरज को अपना उम्मीदवार बनाया. वहीं, सत्तारूढ़ बीजेडी ने अबंती दास पर दांव चला. इस सीट से भाजपा के उम्मीदवार ने 9,881 मतों से जीत हासिल की.