अग्निपथ योजना को लेकर हुए हिंसक विरोध से दुखी महिंद्रा समूह के अध्यक्ष आनंद महिंद्रा (Anand Mahindra) ने सोमवार को एक बड़ी घोषणा की. आनंद महिंद्रा ने ‘प्रशिक्षित और सक्षम’ अग्निवीरों को वह अपनी कंपनी में तरजीह देंगे. आनंद महिंद्रा ने ट्विटर पर कहा कि वह अग्निपथ स्कीम को लेकर हुई हिंसा से दुखी हैं. 

यह भी पढ़ें: VIDEO: पीएम मोदी को लेकर क्या बोले कांग्रेस नेता सुबोध कांत सहाय, मचा बवाल

आनंद महिंद्रा ने अपने ट्वीट में लिखा, “अग्निपथ स्कीम के ऐलान के बाद जिस तरह की हिंसा हो रही है, उससे मैं काफी दुखी हूं. पिछले साल जब इस योजना पर विचार किया जा रहा था, उस वक्त मैंने कहा था कि अग्निवीर को जो अनुशासन और कौशल मिलेगा वह उन्हें निश्चित तौर से रोजगार के योग्य बनाएगा.” आनंद महिंद्रा ने ट्वीट में आगे कहा, “महिंद्रा ग्रुप इस तरह के प्रशिक्षित और सक्षम युवाओं को नौकरी पर रखने के अवसर का स्वागत करता है.”

भारतीय युवाओं को चार साल की अवधि के लिए सशस्त्र बलों में सेवा करने का मौका देने वाली ‘अग्निपथ योजना’ के 14 जून को ऐलान के बाद दिल्ली, उत्तर प्रदेश, बिहार, हरियाणा, तेलंगाना, पश्चिम बंगाल, मध्य प्रदेश, पंजाब, झारखंड, असम और ओडिशा सहित विभिन्न राज्यों में विरोध प्रदर्शन शुरू हो गए थे. कई जगह प्रदर्शनकारियों ने ट्रेन, बसों और पब्लिक प्रॉपर्टी में आग लगा दी. देश के कई हिस्सों में प्रदर्शन ने हिंसक रूप लिया. 

यह भी पढ़ें: Agnipath से पहले भी विरोध की आग में जला रेलवे, करोड़ों की संपत्ति हुई खाक

बता दें कि सेना में भर्ती के लिए प्रवेश आयु 17.5 से 21 वर्ष निर्धारित की गई है. हालांकि, विरोध के बाद केंद्र सरकार ने अग्निवीरों की भर्ती के लिए ऊपरी आयु सीमा को 21 वर्ष से बढ़ाकर 23 वर्ष करने की घोषणा की क्योंकि पिछले दो वर्षों के दौरान भर्ती करना संभव नहीं हो पाया था.

सेना की तरफ से ऐसा कहा गया है, कि अग्निवीरों को सेना के जवानों की तरह ही हार्डशिप अलाउंस दिया जाएगा. वहीं उन्हें सेना के साथ ही रहकर काम करना होगा. इसलिए वो खुद को सेना से अलग बिल्कुल भी न समझें. 

यह भी पढ़ें: Agnipath: फेक न्यूज पर सरकार का वार, 35 WhatsApp ग्रुप बैन, 10 गिरफ्तार

सेना अग्निवीरों को अलग पहचान मुहैय्या कराएगी. उनकी वर्दी पर एक “विशिष्ट प्रतीक चिन्ह” लगा रहा करेगा. यानी कि सेना, नेवी, एयरमैन से अग्निवीरों का बैज बिल्कुल अलग होने वाला है. वायुसेना ने कहा है कि अग्निवीर एयरफोर्स में एक अलग रैंक बनाएंगे, जो कि किसी भी अन्य मौजूदा रैंक से अलग होगी.