Winter Vegetables: देश में इस समय सर्दी का मौसम जोरों पर है. ठंड के दौरान न केवल बाहर बल्कि अंदर से भी गर्म और स्वस्थ (Healthy) रहना आवश्यक होता है. सर्दियों में लोगों की कमजोर इम्यूनिटी होने के कारण कई बीमारियों का सामना करना पड़ता है. तो ऐसे में गर्म कपड़ों के साथ भोजन भी अहम भूमिका निभाते हैं. इस मौसम में लोगों को बुखार, जुकाम, सर्दी ठंड लगाना और स्किन का रुखापन आदि कई प्रकार की परेशानियां होती है. आपको बता दें कि कुछ ऐसे भी सब्जियां है जिनको सर्दियों के मौसम में आवश्यक पोषण और आंतरिक गर्मी के लिए के लिए डाइट में शामिल किया जाता है. यहां आपको हम बताएंगे कुछ ऐसी सब्जियों के बारे में, जिनकी मदद से आप कमजोर इम्यूनिटी (Immunity) से निजात पा सकते हैं. हेल्थ एक्सपर्ट्स बताते हैं कि यह सब्जियां (Vegetables) कई दूसरी बीमारियों से भी छुटकारा देंगी.

यह भी पढ़ें: Diabetes रोगी दूध में मिलाकर पीएं ये गजब का मसाला, घट जाएगा Blood Pressure!

अदरक

सर्दी के मौसम में इम्यूनिटी के खिलाफ अदरक मददगार साबित होता है. अदरक में एंटी-फंगल, एंटी-वायरल और एंटी-बैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं. इसका प्रयोग सब्जी और चाय में कर सकते हैं. यह सर्दी-जुकाम की परेशानी दूर करेगा और बॉडी को गर्म रखने में मदद मिलेगी.

यह भी पढ़ें: Ginger Benefits: इन 4 बीमारियों का इलाज है अदरक, जानें सेवन का तरीका

कच्ची हल्दी

आयुर्वेद में हल्दी को अधिक गुणकारी माना जाता है. यदि कोई सर्दी की दिक्कतों से परेशान है तो उसे कच्ची हल्दी का प्रयोग करना चाहिए. कच्ची हल्दी को दूध के साथ गर्म करके पिएं. इससे बॉडी की इम्यूनिटी स्ट्रांग होगी. इसके अतिरिक्त यह वायरल बीमारियों से भी राहत देती है और बॉडी को अंदर से गर्म रखती है.

यह भी पढ़ें: Skin Care Tips: सर्दियों में गाजर का ऐसे करें इस्तेमाल, ग्लोइंग हो जाएगी त्वचा

मूली और गाजर

सर्दियों में लोगों को पेट से संबंधित परेशानियों का सामना करना पड़ता है. ऐसे में फाइबर युक्त सब्जियों का सेवन करना सेहत के लिए लाभकारी है. हेल्थ एक्सपर्ट्स के अनुसार, गाजर और मूली का सेवन करना सेहत के लिए अच्छा होता है. इन दोनों में भरपूर मात्रा में फाइबर पाया जाता है. मूली जंक फूड के नुकसान से भी बचाती है. इसके अलावा गाजर इम्यूनिटी को स्ट्रांग करती है. यह आंखों की रोशनी के लिए भी लाभकारी होता है.

(नोटः ये जानकारी एक सामान्य सुझाव है. इसे किसी तरह के मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें. आप इसके लिए अपने डॉक्टरों से सलाह जरूर लें.)