डायबिटीज (Diabetes) एक खतरनाक बीमारी है. दिन-प्रतिदिन इसके मरीजों की तादाद देश और दुनिया में बढ़ती ही जा रही है. इस बीमारी में व्यक्ति को अपने ब्लड शुगर (Blood Sugar) लेवल को नियंत्रण में रखना पड़ता है. अगर ब्लड शुगर लेवल पर नियंत्रण बनाए रखा जाए तो यह व्यक्ति के लिए खतरनाक साबित हो सकता है. डायबिटीज होने के पीछे मुख्य कारण खराब डाइट और बिगड़ते हुए लाइफस्टाइल (Lifestyle) को माना जाता है. बता दें कि डायबिटीज रोगी तीन तरह के पत्तों का सेवन कर ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रण में रख सकते हैं. चलिए आपको उनके बारे में बताते हैं.

यह भी पढ़ें: Vitamin D Deficiency: किस विटामिन की कमी से बॉडी में रहती है सुस्ती?

डायबिटीज रोगियों को अपने डाइट को कंट्रोल में रखना चाहिए तनाव से दूर रहे और कुछ आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों का सेवन करें इन से ब्लड शुगर लेवल को आसानी से कंट्रोल में किया जा सकता है इसके अलावा डायबिटीज रोगी ब्लड शुगर को कंट्रोल में रखने वाले तीन तरह के पत्तों का सेवन भी कर सकते हैं चलिए आप को उनके बारे में बताते हैं

कोस्टस इग्नस की पत्तियों का सेवन बहुत फायदेमंद

कोस्टस इग्नस की पत्तियां जिसे इंसुलिन के पौधे के नाम से भी जाना जाता है. इस पौधे की पत्तियां ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रण में रखने में बहुत कारगर है. इंसुलिन के पत्तों में प्रोटीन, टेरपेनोइड्स, फ्लेवोनोइड्सस, एंटीऑक्सीडेंट्स, एस्काॅर्बिक एसिड, आयरन, बी कैरोटीन और कोर्सोलिक एसिड जैसे पोषक तत्व होते हैं जो शरीर को हेल्दी रखने का काम करते हैं.

यह भी पढ़ें: कम उम्र में ही बालों में नजर आ रही है सफेदी, तो जान लें इसका कारण और उपाय

करें करी पत्ते का सेवन

करी पत्ते का सेवन कर आप ब्लड शुगर लेवल के स्तर को नियंत्रण में रख सकते हैं. करी पत्ता फाइबर से भरपूर होता है. ये पाचन को धीमा करता है जिससे ब्लड में शुगर का स्तर कंट्रोल में रहता है. करी पत्ते के सेवन से नेचुरल तरीके से इंसुलिन का उत्पादन होता है.

यह भी पढ़ें: नारियल तेल में ये चीज मिलाकर लगाने से सफेद बालों को किया जा सकता है काला

अश्वगंधा की पत्तियां बहुत फायदेमंद

अश्वगंधा एक ऐसी जड़ी बूटी है जो इम्यूनिटी को बढ़ाने का काम करती है. इसके अलावा ये ब्लड में शुगर के स्तर को कंट्रोल में रखती है. अगर आप इसकी हरी पत्तियों का सेवन करेंगे तो इससे ब्लड शुगर लेवल नियंत्रण में रहेगा. आप अश्वगंधा की जड़ और पत्तों को पीसकर उनका पाउडर बना सकते हैं. फिर आप गुनगुने पानी से इसका सेवन कर शरीर को स्वस्थ रख सकते हैं.

(नोटः ये जानकारी एक सामान्य सुझाव है. इसे किसी तरह के मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें. आप इसके लिए अपने डॉक्टरों से सलाह जरूर लें.)