हमारे देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक एसबीआई (SBI) ने अपने ग्राहकों को अलर्ट किया है. बैंक ने आज ट्वीट कर जानकारी दी. उन्होंने बताया कि अगर आपने केवाईसी के नाम आए एसएमएस (SMS) या मेल (Mail) के जरिए कैसे फ्रॉड का शिकार हो सकते हैं और आपकी जमा-पूंजी एक झटके में गायब हो सकती है.

एसबीआई (SBI) ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से ट्वीट किया, “यहां #YehWrongNumberHai, KYC का एक उदाहरण दिया गया है. इस तरह के एसएमएस से धोखाधड़ी हो सकती है और अपनी बचत गंवा सकते हैं. एम्बेडेड लिंक्स पर क्लिक न करें. एसएमएस प्राप्त करने पर एसबीआई (SBI) के सही शॉर्ट कोड की जांच करें. सतर्क रहें और बने रहें #SafeWithSBI.”

यह भी पढ़ें: आप भी करें पोस्ट ऑफिस की इस स्कीम में निवेश, मिलेगा 14 लाख का रिटर्न

आपकी जानकारी के लिए बता दें बैंक खाता केवाईसी (KYC) अपडेट कराने की अंतिम तारीख 31 मार्च 2021 थी, लेकिन कोरोनावायरस (Coronavirus) के ओमिक्रोन वेरिएंट के चलते बैंक ने केवाईसी अपडेट करने की अंतिम तारीख बढ़ाकर 31 मार्च 2022 कर दी थी.

यह भी पढ़ें: बैंक एग्जाम नहीं निकल रहा तो अपनाएं ये आसान टिप्स, मिलेगा फायदा

आपके पैन से हो सकती है जीएसटी की चोरी

इससे पहले केंद्रीय अप्रत्यक्ष कर और सीमा शुल्क बोर्ड ने गुरुवार को लोगों को सावधान करते हुए कहा था कि वैध कारण या किसी मौद्रिक लाभ के बिना आधार और पैन विवरण साझा करने पर धोखेबाज इसका दुरुपयोग जीएसटी चोरी के लिए कर सकते हैं. सीबीआईसी ने एक ट्वीट में कहा कि आधार और पैन विवरण का इस्तेमाल जीएसटी चोरी कर फर्जी संस्थाएं बनाने में किया जा सकता है और इसलिए लोगों को बिना किसी वैध कारण के इन्हें साझा करने से बचना चाहिए.

सीबीआईसी ने अपने ट्विटर पर लिखा कि अपने व्यक्तिगत आंकड़े को सुरक्षित रखें, जिसका दुरुपयोग कर जीएसटी चोरी के लिए फर्जी संस्थाएं बनाने में किया जा सकता है. बीते वर्षों में वस्तु और सेवा कर (जीएसटी) अधिकारियों ने कई फर्जी कंपनियों का भंडाफोड़ किया, जिनका इस्तेमाल माल की वास्तविक आपूर्ति के बिना नकली चालान बनाकर धोखाधड़ी से इनपुट टैक्स क्रेडिट का दावा करने के लिए किया गया.

यह भी पढ़ें: बैंक खाते में जमा एक-एक पैसा हो जाएगा गायब, अगर नहीं रखा इस बात का ध्यान