ई-श्रम कार्ड (E-Shram Card) योजना केंद्र सरकार के द्वारा जारी की गई एक योजना है. सरकार ने श्रम एंव रोजगार मंत्रालय के जरिए भारत के असंगठित बेरोजगार गरीब मजदूरों और उनके परिवार के लिए ई-श्रम योजना शुरू की है. केंद्रीय सरकार ने भारत के श्रमिकों के लिए 1000 रुपये हर महीने E-Sharm कार्ड के जरिए देने का ऐलान कुछ महीने पहले किया. जानकारी के लिए बता दें कि इस योजना के तहत अगर आपने ई-श्रम कार्ड बनवा रखा है तो आपके खाते में हर महीने 1 हजार रुपये आता है. इसके अलावा सरकार ई-श्रम कार्ड के द्वारा श्रमिकों को प्रत्येक महीने आर्थिक सहायता के साथ-साथ 2 लाख रुपये तक का बीमा भी देती है.

यह भी पढ़ें: E-Sharm कार्ड का पैसा सिर्फ इन लोगों को मिलेगा, इस तरह चेक करें लिस्ट

अगर आप ई-श्रम पोर्टल पर पर रजिस्ट्रेशन कराने जा रहे हैं तो धोखेबाजों से सावधान रहें. इन दिनों इस पोर्टल पर हर दिन लाखों लोग रजिस्ट्रेशन करा रहे हैं. तो ऐसे में सावधानी बरतनी जरूरी है. इस पोर्टल को लेकर कई तरह के फर्जीवाड़े मामले सामने आए है. इसी के मद्देनजर पीआईबी ने अपने ऑफिशियल ट्विटर पर लिखा है कि ई-श्रम पोर्टल पर पंजीकरण के दौरान धोखेबाजों से सावधान रहें. पंजीकरण के लिए #eShram के आधिकारिक पोर्टल पर ही विजिट करें.

यह भी पढ़ें: खाते में सरकार भेजने वाली है पैसे, जानें कौन-कौन है पात्र और क्या करना होगा

ई-श्रम कार्ड रजिस्ट्रेशन की पात्रता

ई-श्रम कार्ड का लाभ उठाने के लिए व्यक्ति के लिए भारत का नागरिक होना बहुत जरूरी है. इसके अलावा 18 से लेकर 59 की उम्र वाला कोई भी व्यक्ति इस योजना का लाभ उठा सकता है.

यह भी पढ़ें: 12 लाख तक की सैलरी पर बचा सकते हैं इनकम टैक्स, यहां जानें तरीका

इस तरह ई-श्रम कार्ड का पंजीकरण करें

-आधिकारिक वेबसाइट eshram.gov.in पर जाकर रजिस्टर ऑन ई-श्रम वाले ऑप्शन पर क्लिक करें.

-इसके बाद अपने आधार कार्ड से लिंक मोबाइल नंबर को दर्ज करके कैप्चा कोड भरें

-मोबाइल नंबर पर आए हुए ओटीपी को दर्ज करें.

-अब आप जरूरी जानकारी दर्ज करें और अपना एक फोटो भी अपलोड कर दें.

-इसके बाद Registration को पूरा करें.

यह भी पढ़ें: मार्च खत्म होने से पहले निपटाएं ये 4 जरूर काम, वरना हो सकता है भारी नुकसान

ई-श्रम कार्ड का पैसा किन लोगों को मिलता है?

ई-श्रम कार्ड को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अगस्त, 2021 को अन ऑर्गेनाइज सेक्टर के कर्मचारियों के कल्याण के लिए लॉन्च किया था. इस योडना के अंतर्गत NDUW डाटा के आधार पर बेरोजगारों के लिए नई नौकरियां प्रदान की जाएंगी और इस योजना के अंतर्गत करीब 38 लाख से ज्यादा कार्यकर्ताओं को लाभ दिए जाएंगी.

यह कार्ड आपके आस-पास देखे जाने वाले हर प्रकार के श्रमिक जिनमें ट्यूटर, रिक्शा चालक, चाट वाला, भेल वाला, चाय वाला, होटल में काम करने वाले वेटर, रिसेप्शनिस्ट, इंक्वायरी क्लर्क, नाई, मोची, दर्जी, बढ़ई, प्लंबर, इलेक्ट्रीशियन (इलेक्ट्रीशियन), पोती (चित्रकार), टाइल कार्यकर्ता, वेल्डिंग कार्यकर्ता , खेतिहर मजदूर, , किसी भी प्रकार के विक्रेता में ठेला नरेगा मजदूर, ईंट भट्ठा मजदूर, पत्थर तोड़ने वाला, खदान मजदूर, फाल्स सीलिंग मैन, मूर्तिकार, ऑपरेटर, मछुआरा, रेजा, कुली,आया जैसे लोग शामिल हैं.

यह भी पढ़ें: रिटायरमेंट के बाद प्रतिमाह मिलेगा 50 हजार का ब्याज, बस इस जगह शुरू कर दें निवेश