Mohini Ekadashi 2023 Upay: हिंदू धर्म में एकादशी (Ekadashi) का विशेष महत्व बताया गया है. साल में 24 एकादशी होती हैं और महीने में 2 एकादशी व्रत रखे जाते हैं. हर एकदाशी व्रत का अपना खास महत्व भी होता है. एकादशी का व्रत भगवान विष्णु (Lord Vishnu) को समर्पित होता है और इस दिन भगवान की सच्चे मन से पूजा-अर्चना करने से विशेष लाभ भी मिलता है. एकादशी व्रत के दिन अगर आप कुछ उपाय कर लें तो आपके ऊपर भगवान विष्णु की कृपा हमेशा बनी रहेगी. आपके हर बिगड़ते काम हमेशा बनेंगे. इसके लिए आपको क्या-क्या करना चाहिए चलिए बताते हैं.

यह भी पढ़ें: Mohini Ekadashi Importance: भगवान विष्णु ने क्यों लिया था नारी रूप? जानें मोहिनी एकादशी का महत्व

मोहिनी एकादशी पर ये काम नहीं किया तो अधूरी रहेगी पूजा (Mohini Ekadashi 2023 Upay)

ऐसी मान्यता है कि मोहिनी एकादशी के दिन सुबह और शाम दोनों समय विष्णुजी के सामने तो घी का दीपक जलाकर पूजा करनी ही है साथ में घी के 5 दीपक जलाकर तुलसी के पौधे के पास भी रख दें. ऐसा करने के साथ ही 11,21, 51 या 108 बार तुलसी के पौधे की परिक्रमा करते समय ‘ॐ नमो भगवते वासुदेवाय नमः’ मंत्र का जाप करें. ऐसा करने से आपकी सभी मनोकामनाएं तो पूरी होती ही हैं साथ में आपके घर-परिवार में सुख-शांति बनी रहती है. घर में सकारात्मक ऊर्जा का निवास होता है.

मोहिनी एकादशी का महत्व (Mohini Ekadashi Importance)

वैशाख माह की एकादशी तिथि 1 मई 2023 दिन सोमवार है और इसका पारण 2 मई की सुबह 5.45 बजे है. मोहिनी एकादशी के दिन ब्रह्म मुहूर्त में उठें और अपने व्रत का संकल्प लें. इसके बाद शाम के समय भगवान विष्णु की प्रतिमा के सामने धूप, दीप, पुष्प, भोग उन्हें अर्पित करें. इसके साथ ही मोहिनी एकादशी व्रत कथा पढ़ें और आरती करें. ऐसा माना जाता है कि भगवान विष्णु समुद्र मंथन के बाद राक्षसों से अमृत को बचाने के लिए मोहिनी अवतार लिया था. इस दिन भगवान विष्णु की पूजा और यज्ञ कराने से कई पापों का नाश होता है.

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारी सामान्य मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. ओपोई इसकी पुष्टि नहीं करता है.)

यह भी पढ़ें: Mohini Ekadashi 2023 Mantra: मोहिनी एकादशी पर करें इस मंत्र का जाप, फिर देखें जीवन में होंगे चमत्कार!