हिंदू धर्म में नारियल के फल को श्रीफल के नाम से जाना जाता है और लगभग हर पूजा-पाठ और अनुसंधान में इसका इस्तेमाल किया जाता है. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि नारियल के फल के अलावा नारियल के पेड़ का भी हिंदू धर्म में बहुत महत्व है. ऐसा माना जाता है कि नारियल के पेड़ में माता लक्ष्मी वास करती हैं. वास्तु शास्त्र की मानें तो जिस भी घर में नारियल का पेड़ लगा होता है उस घर में सदा सुख-शांति बनी रहती है. वास्तु शास्त्र में नारियल के पेड़ से जुड़ी बहुत सी ऐसी मान्यता है जिनके बारे में आपको पता होना चाहिए.

यह भी पढ़ें: Ganesh Chaturthi 2022: गणेश जी की मूर्ति लेते समय इन चीजों का रखें ध्यान

नारियल का पेड़ लगाने के फायदे

1. वास्तु शास्त्र की मानें तो यदि किसी व्यक्ति को नौकरी या व्यापार में तरक्की नहीं मिल रही है तो उसे अपने घर के आंगन में नारियल का पेड़ जरूर लगाना चाहिए. इससे उसको बहुत फायदा मिलेगा.

2. वास्तु के अनुसार, नारियल का पेड़ लगाने से व्यक्ति आर्थिक परेशानियों से छुटकारा पा सकता है. साथ ही घर में हो रहे झगड़ों से भी मुक्ति मिल जाती है.

3. नारियल का पेड़ लगाते समय एक बात का विशेष ध्यान रखें कि ये पेड़ घर की दक्षिण या पश्चिम दिशा में ही लगाएं.

यह भी पढ़ें: घर की इस दिशा में रखें भगवान गणेश की मूर्ति, खुलेंगे भाग, होगी धन की वर्षा!

स्वास्थ्य की दृष्टि से भी नारियल का पेड़ बहुत फायदेमंद

धार्मिक महत्व के साथ-साथ नारियल का पेड़ और उसका फल स्वास्थ्य के लिए बहुत महत्वपूर्ण होता है. शरीर को डिहाइड्रेट होने से बचाने के लिए नारियल का पानी बहुत फायदेमंद रहता है. इसके अलावा नारियल का पानी पीने से पेट के साथ-साथ सिर भी ठंडा रहता है. बता दें कि नारियल के अंदर प्रोटीन, विटामिन, मिनरल्स, पोटेशियम, फाइबर और कैल्शियम पाए जाते हैं.

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारी सामान्य मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. ओपोई इसकी पुष्टि नहीं करता है.)