कार्तिक पूर्णिमा (Kartik Purnima) 8 नवंबर 2022 को पड़ रही है. ये पूर्णिमा हर साल कार्तिक पक्ष की शुक्ल पक्ष की तिथि को पड़ती है, इसलिए इसे कार्तिक पूर्णिमा कहा जाता है. मान्यता है कि कार्तिक पूर्णिमा के दिन भगवान विष्णु (Bhagwan Vishnu) की पूजा की जाती है. कार्तिक मास को धार्मिक दृष्टि से सबसे पवित्र महीना माना जाता है. कार्तिक पूर्णिमा वाले दिन लोग सुबह जल्दी उठकर स्नान कर भगवान सूर्य को अर्घ्य देते हैं. यदि कार्तिक पूर्णिमा के दिन मां लक्ष्मी (Maa Laxmi) की पूजा की जाए और इस दिन कुछ खास उपाय किए जाएं तो मां लक्ष्मी को प्रसन्न किया जा सकता है. तो आइए जानते हैं कि वो कौन से खास उपाय हैं जिनसे मां लक्ष्मी को प्रसन्न किया जा सकता है.

यह भी पढ़ें: Kartik Purnima 2022: कब है कार्तिक पूर्णिमा, जानें शुभ मुहूर्त और तिथि

कार्तिक पूर्णिमा लक्ष्मी उपाय

 तुलसी पूजा

कार्तिक मास धार्मिक दृष्टि से बहुत ही पावन मास माना जाता है. माना जाता है कि कार्तिक पूर्णिमा पर विशेष रूप से भगवान विष्णु की पूजा की जाती है.  तुलसी भगवान विष्णु की प्रिय होती है और इसे धार्मिक मान्यताओं के आधार पर तुलसी माता भी कहा जाता है . मान्यता है कि मां लक्ष्मी भगवान विष्णु की पत्नी हैं . इसलिए तुलसी पूजन (Tulsi Puja) करने पर भगवान विष्णु के साथ-साथ मां लक्ष्मी भी प्रसन्न हो जाती हैं.

तोरण

कहा जाता है कि कार्तिक पूर्णिमा के दिन घर के मुख्य दरवाजे पर तोरण लगाना शुभ होता है. माना जाता है कि ऐसा करने पर घर में मां लक्ष्मी का आगमन होता है और मां लक्ष्मी सभी कष्टों का निवारण कर देती है. 

यह भी पढ़ें:  Akshay Navami 2022 Date: कब है अक्षय नवमी? जानें शुभ मुहूर्त और महत्व

दीपदान

कार्तिक पूर्णिमा वाले दिन भक्त मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए गंगा के तट पर जाकर दीपदान करते हैं. यदि गंगा का तट पर जाना संभव न हो या वो  आसपास ना हो तो किसी भी नदी, झील या तालाब में दीपदान किया जा सकता है.

पूजा-पाठ

 कार्तिक मास में पूजा पाठ का विशेष विधान होता है. कार्तिक मास की कार्तिक पूर्णिमा वाले दिन भगवान विष्णु की पूजा की जाती है और उनके साथ मां लक्ष्मी की भी पूजा होती है. इस दिन मां लक्ष्मी की पूजा करने के लिए सुबह उठकर स्नान करें व घर को साफ करें. इसके पश्चात मां लक्ष्मी की पूजा (Lakshmi Puja) और आरती करके भोग लगाया जाता है.

यह भी पढ़ें:  Vastu Tips: मुख्य द्वार लगाएं ये चीजें, घर में कभी नहीं होगी सुख-समृद्धि

पीपल की पूजा

मान्यता है कि  कार्तिक पूर्णिमा के दिन पीपल के पेड़ की पूजा करना शुभ माना जाता है. इस दिन पीपल के पेड़ पर जल में दूध मिलाकर अर्पित किया जा सकता है.

Disclaimer: यहां दी गई जानकारी सामान्य मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. ओपोई इसकी पुष्टि नहीं करता है.