Diwali 2022 Upay: कार्तिक मास में अमावस्या तिथि को दिवाली (Diwali 2022) का त्योहार (Festival) सदियों से मनाया जा रहा है. दिवाली की तिथि एक रहती है, बस हर साल तारीखें बदल जाती हैं. इस साल दिवाली का पर्व 24 अक्टूबर को पड़ रहा है और देशभर में इसी दिन आज दिवाली का खास त्योहार मनाया जा रहा है. इस पर्व की शुरुआत धनतेरस और समापन भैया दूज के साथ होता है.

यह भी पढ़ें: Diwali puja muhurat 2022: जानें दिवाली का पूजन मुहूर्त, इस समय करेंगे पूजा तो मिलेगा पूरा फल

मान्यताओं के मुताबिक, दिवाली (diwali 2022 ke totke) और मनोकामना सिद्धि का एक-दूसरे से संबंध है. तंत्र-मंत्र विद्याओं के अनुसार दिवाली को सभी तरह की साधनाओं के लिए सबसे अधिक उपयुक्त माना गया है. यही कारण है कि दिवाली की रात्रि को महानिशा भी कहा जाता है. ऐसी रात जो सालभर में सबसे महान हो. दिवाली की रात को मनुष्य अगर कुछ विशेष उपाय (diwali ke upay) के जरिए अमीर बन सकता है.

यह भी पढ़ें: Diwali 2022: दिवाली पर ऐसे करें मां लक्ष्मी की पूजा, कभी नहीं होगी पैसों की कमी

1.दिवाली के दिन मां लक्ष्मी के मंदिर जाकर लक्ष्मी जी को वस्त्र चढ़ाएं. इसके साथ ही अगरबत्ती जलाकर मां लक्ष्मी का ध्यान करें. मान्यता है कि ऐसा करने से धन प्राप्ति का रास्ता खुलेगा.

यह भी पढ़ें: Diwali 2022 Wishes, Quotes, Messages in Hindi: दिवाली की प्रियजनों को भेजें ये हार्दिक शुभकामनाएं

2.दिवाली पर्व की रात को लक्ष्मी पूजन के साथ गन्ने की भी पूजा करें. ऐसा माना जाता है कि ये कमा करने से धन संपत्ति में वृद्धि होगी. पूजा करने के बाद इस गन्ने का सेवन नहीं करें. बल्कि स्वच्छ जल की धारा में प्रवाहित कर सकते हैं.

3.दिवाली की रात्रि को लक्ष्मी जी की पूजा-अर्चना करने के बाद नौ गोमती चक्र तिजोरी में स्थापित करें. मान्यता है कि ऐसा करने से सालभर समृद्धि और खुशहाली बनी रहती है. मां लक्ष्मी के आशीर्वाद से पैसों की कमी नहीं रहती है.

यह भी पढ़ें: Diwali 2022 पर गिफ्ट में दें ये चमत्कारी पौधे, घर में होगी पैसों की बारिश!

4.दिवाली से आरंभ करते हुए हर अमावस्या की शाम को किसी दिव्यांग इंसान या फिर किसी जरूरतमंद को भोजन कराएं. ये काम आप प्रत्येक महीने की अमावस्या को करें. माना जाता है कि ऐसा करने से आपके धन वैभव में तेजी से बढ़ोतरी होगी.

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारी सामान्य मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. ओपोई इसकी पुष्टि नहीं करता है.)